सोमवार, 30 नवंबर 2020

हमारी सेवायें ऐसी हों, जिससे लोग स्वत: ही बिजली बिल जमा करने आगे आएँ – ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर

ऊर्जा मंत्री एवं विभाग के प्रमुख सचिव ने की ग्वालियर-चंबल संभाग की विद्युत व्यवस्था की समीक्षा

हमारा विद्युत वितरण सिस्टम इतना मजबूत हो, जिससे कम से कम फॉल्ट हों। लोगों को निर्बाध रूप से बिजली मिले और उपभोक्ताओं की बिजली संबंधी समस्याओं का त्वरित समाधान हो जाए। हमारी सेवायें बेहतर होंगीं तो विद्युत वितरण कंपनी की छवि तो अच्छी बनेगी ही, साथ ही राजस्व में भी बढ़ोत्तरी होगी। यह बात प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ग्वालियर एवं चंबल संभाग की विद्युत व्यवस्था की समीक्षा बैठक में कही। बैठक में मौजूद विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों को भरोसा दिलाया कि जरूरी संसाधनों के लिये धन की कमी नहीं आने दी जायेगी। 
ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने विभाग के प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे के साथ यहाँ रोशनी घर के सभागार में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के दोनों संभागों के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के सीएमडी श्री विशेष गढ़पाले भी मौजूद थे। साथ ही विद्युत वितरण कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक एवं उप महाप्रबंधक सहित ग्वालियर-चंबल संभाग के अन्य विद्युत अधिकारी मौजूद रहे।
    मंत्री श्री तोमर ने कहा कि हम बेहतर सेवायें देंगे तो निश्चय ही उपभोक्ता स्वत: ही बिजली बिल जमा करने के लिये आगे आयेंगे। उन्होंने कहा लोगों की विद्युत संबंधी समस्याओं का त्वरित समाधान करने के साथ-साथ उनसे टेलीफोन से संपर्क कर बिजली बिल जमा करने का आग्रह भी करें, जिससे विद्युत राजस्व में बढ़ोत्तरी हो और सेवाओं को और बेहतर बनाया जा सके। उन्होंने विद्युत वितरण कंपनियों के अधिकारियों से कहा कि इस दिशा में ग्वालियर-चंबल संभाग से ऐसी पहल हो जो पूरे प्रदेश के लिये उदाहरण बने।
    हर समय मेंटीनेंस का पर्याप्त सामान उपलब्ध रहने पर ऊर्जा मंत्री ने विशेष जोर दिया। उन्होंने कहा पहले से ही मेंटीनेंस के सामान की व्यवस्था करके रखें और स्किल्ड लाइनमैन रखे जाएँ, जिससे विद्युत फॉल्ट का सुधार तेजी से और बेहतर ढंग से हो सके। उन्होंने विद्युत लाइनों के नीचे से खराब हो रहे खम्बे चरणबद्ध ढंग से बदलने के निर्देश दिए। श्री तोमर ने शहर के मध्य से होकर गुजरी हाईटेंशन लाईन से होने वाली दुर्घटनाओं पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि भविष्य में ऐसी घटनायें न हों, इसके लिये पुख्ता कदम उठाए जाएँ। ऊर्जा मंत्री ने इसके लिये फूलबाग क्षेत्र में 33 केव्ही का एक विद्युत उपकेन्द्र स्थापित करने का सुझाव दिया।
    ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे ने विद्युत राजस्व में बढ़ोत्तरी के लिये बकाया बिलों की वसूली पर विशेष बल दिया। उन्होंने कहा कि विद्युत चोरी रोकने के साथ-साथ बिजली बिल वसूली के लिये विशेष मुहिम चलाएँ। वसूली की कार्रवाई पहले सक्षम लोगों से की जाए। जिससे समाज में अच्छा संदेश पहुँचे और लोग स्वत: ही बिजली बिल जमा करने के लिये प्रेरित हों। उन्होंने भिण्ड, मुरैना व दतिया जिले में कृषि क्षेत्र के कम विद्युत कनेक्शन और एचटी कनेक्शन कम पाए जाने पर कहा कि सभी पात्र उपभोक्ताओं को यह कनेक्शन दिए जाएँ। श्री दुबे ने अवैध कॉलोनियों के विद्युतीकरण, विद्युत हानि, खराब ट्रांसफार्मरों को बदलने की कार्रवाई सहित विद्युत आपूर्ति से संबंधित अन्य बिंदुओं की विस्तार से समीक्षा की और विद्युत व्यवस्थाओं में सुधार के लिये आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी: केवल इस ब्लॉग का सदस्य टिप्पणी भेज सकता है.

केंद्रीय मंत्री का चंबल पर भव्य स्वागत , केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने की अगवानी , भव्य रोड रथ पर रोड शो किया

  देश और प्रदेश का विकास ही मुख्य मकसद - केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सिधिंया  मुरैना 22 सितम्बर 2021/केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ...