बुधवार, 9 दिसंबर 2020

विजन डॉक्यूमेंट में अल्प, मध्य एवं दीर्घकालीन योजनायें शामिल, ग्वालियर के दीर्घकालीन विकास के लिये विषय विशेषज्ञों से ली जायेगी राय

ग्वालियर शहर के समग्र विकास हेतु शहर का विजन डॉक्यूमेंट तैयार किया जायेगा। विजन डॉक्यूमेंट में अल्पकालीन, मध्यकालीन एवं दीर्घकालीन योजनाओं के तहत विकास कार्य शामिल किए जायेंगे। संभागीय आयुक्त श्री आशीष सक्सेना की अध्यक्षता में विजन डॉक्यूमेंट हेतु मोतीमहल के मानसभागार में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री संदीप माकिन, सीईओ स्मार्ट सिटी श्रीमती जयति सिंह, एडीएम श्री किशोर कान्याल सहित निर्माण विभाग से जुड़े विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
    संभागीय आयुक्त श्री आशीष सक्सेना ने कहा कि हमको ग्वालियर विकास के लिये समन्वित रूप से कार्य करना होगा। विभिन्न विभागों की जो विकास परियोजनायें स्वीकृत हैं। उन्हें शीघ्र-अतिशीघ्र पूर्ण करने की दिशा में कार्य करना होगा। इसके साथ ही शहर के चहुँमुखी विकास हेतु जो कार्य आवश्यक हैं उनकी कार्ययोजना भी तैयार करने का कार्य तत्परता से करना होगा। शहर के दीर्घकालीन विकास के लिये विषय विशेषज्ञों के माध्यम से पूरी प्लानिंग भी करानी होगी।
    संभाग आयुक्त श्री सक्सेना ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की जो परिकल्पना सामने रखी है उसके अनुरूप भी हमें अपने शहर के विकास में तेजी से कार्य करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर के विजन डॉक्यूमेंट की विस्तृत प्लानिंग के लिये चरणबद्ध तरीके से कार्य किया जाना जरूरी है। विभिन्न सेक्टरों के लिये प्रभारी अधिकारी बनाकर कार्ययोजना तैयार की जाए।

    संभागीय आयुक्त ने विजन डॉक्यूमेंट के समग्र कार्य के लिये सीईओ स्मार्ट सिटी श्रीमती जयति सिंह एवं एडीएम श्री किशोर कान्याल को जवाबदारी सौंपी। यह विकास के लिये जो डॉक्यूमेंट बनाया जाना है उसमें विभिन्न विभागों से समन्वय कर परियोजना का प्रतिवेदन तैयार करने का कार्य करेंगे। शहर के इन्फ्रास्ट्रक्चर के संबंध में पूरी कार्ययोजना तैयार करने का कार्य नगर निगम आयुक्त श्री संदीप माकिन के नेतृत्व में किया जायेगा। इसी प्रकार हैल्थ के क्षेत्र में किए जाने वाले कार्यों के लिये अपर कलेक्टर श्री आशीष तिवारी को जिम्मेदारी सौंपी है। गुड गवर्नेंस के क्षेत्र में जो कार्य किया जायेगा उसकी विस्तृत कार्ययोजना तैयार करने की जवाबदारी संभागीय अपर आयुक्त श्रीमती सपना निगम को सौंपी गई है।
    संभाग आयुक्त श्री आशीष सक्सेना ने स्वरोजगार एवं उद्योग के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्र के विकास की पूरी कार्ययोजना तैयार करने की जवाबदारी सीईओ जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा को सौंपी है। यह सभी प्रभारी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र की परियोजना तैयार करने का कार्य संबंधित विभागों से समन्वय स्थापित कर करेंगे और तैयार की गई परियोजना का प्रजेण्टेशन आगामी दिनों में प्रस्तुत करेंगे। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि ग्वालियर के विकास के लिये दीर्घकालीन विजन डॉक्यूमेंट बनाने का कार्य किसी विषय विशेषज्ञ संस्था के माध्यम से कराया जाए। इसके लिये इफको के माध्यम से विषय विशेषज्ञों का चयन किया जा सकता है।
    संभाग आयुक्त श्री सक्सेना ने कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह से कहा कि वे ग्वालियर के विकास के लिये चरणबद्ध कार्ययोजना तैयार कराने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएँ। जिले के विभिन्न निर्माण विभाग से जुड़े अधिकारियों और विषय विशेषज्ञों के साथ मिलकर अल्पकालीन, मध्यकालीन और दीर्घकालीन कार्ययोजनाओं को तैयार कराएँ। उन्होंने इस बात पर भी विशेष जोर दिया कि विभिन्न विभागों के माध्यम से शहर विकास की जो परियोजनायें मंजूर हैं उनको शीघ्र पूर्ण करने की दिशा में भी तेजी से कार्य किया जाए।
    बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि ग्वालियर के विकास के लिये जो विजन डॉक्यूमेंट बनाया जाए उसमें ग्वालियर के प्लानिंग एरिया को ध्यान में रखकर कार्ययोजना तैयार हो, जिससे शहर के साथ-साथ विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण साडा एवं आस-पास के अन्य क्षेत्रों के विकास को भी ध्यान में रखकर कार्य किया जा सके।
    कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बैठक में बताया कि विजन डॉक्यूमेंट के लिये जिला स्तर पर शहर के जनप्रतिनिधियों एवं प्रबुद्ध नागरिकों के साथ एक बैठक का आयोजन किया गया है। बैठक में महत्वपूर्ण सुझाव भी आए हैं। ग्वालियर में जो परियोजनायें स्वीकृत हैं उनको विभिन्न विभागों के माध्यम से तत्परता से पूर्ण कराने की दिशा में भी प्रयास तेजी से किए जा रहे हैं। स्मार्ट सिटी की कई परियोजनायें भी पूर्णता की ओर हैं जिनके पूर्ण होने से शहरवासियों को उसका लाभ मिलने लगेगा।
    नगर निगम आयुक्त श्री संदीप माकिन ने भी शहर विकास के लिये नगर निगम, विकास प्राधिकरण, लोक निर्माण विभाग एवं पीआईयू सेल के माध्यम से जो कार्य किए जा रहे हैं उनमें शीघ्रता से कार्य करने की आवश्यकता बताई। सभी अधिकारियों ने बैठक में आश्वस्त किया कि विजन डॉक्यूमेंट के लिये जो जिम्मेदारी सौंपी गई है उसको समय-सीमा में पूर्ण कर अपनी विस्तृत कार्ययोजना शीध्र प्रस्तुत की जायेगी।
    सीईओ स्मार्ट सिटी श्रीमती जयति सिंह ने भी स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत शहर में किए जा रहे कार्यों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत ज्यादातर परियोजनाओं में कार्य पूर्णता की ओर है। जिनको शीघ्र पूर्ण भी कर लिया जायेगा। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी: केवल इस ब्लॉग का सदस्य टिप्पणी भेज सकता है.

केंद्रीय मंत्री का चंबल पर भव्य स्वागत , केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने की अगवानी , भव्य रोड रथ पर रोड शो किया

  देश और प्रदेश का विकास ही मुख्य मकसद - केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सिधिंया  मुरैना 22 सितम्बर 2021/केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ...