शनिवार, 12 दिसंबर 2020

मुरैना - पोरसा दूल्हा कांड , दुल्हन नहीं मिली तो साली को अपहरण कर ले गया , प्रशासन ने रुकवाया बाल विवाह, आखिर दूल्हा पकड़ा गया , साली चंगुल से मुक्त हुयी

 जिला प्रशासन ने बाल विवाह रुकवाया तो नाराज दूल्हा अपनी ही दुल्हन की 11 साल की बहन को जबरन उठा ले गया। घटना गुरुवार रात मुरैना के पोरसा परदुपुरा गांव की है। सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी की। दूल्हे को हिरासत में लेकर बच्ची को छुड़ा लिया। पुलिस ने दूल्हे की मदद करने वाली एक महिला रिश्तेदार को भी हिरासत में लिया है।

मुरैना निवासी विनोद सखवार की शादी 10 दिसंबर को पोरसा के परदुपुरा गांव में थी। जिस लड़की से उसकी शादी हो रही थी, उसकी उम्र 14 साल थी। यह सूचना किसी ने चाइल्ड लाइन और जिला प्रशासन को दे दी। इस पर पुलिस के साथ प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची और बाल विवाह रुकवा दिया। साथ ही, दुल्हन का मेडिकल कराने के बाद उसे वन स्टॉप सेंटर पहुंचा दिया गया। इस बात से दूल्हा नाराज हुआ। उसने अपनी रिश्तेदार शकुंतला के माध्यम से दुल्हन की छोटी बहन को बुलाया और जबरन अपने साथ ले गया। इसका पता परिजन को चला, तो उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने भी मामले की गंभीरता को समझते हुए घेराबंदी कर दी। कुछ ही देर बाद दूल्हे और मददगार महिला को पकड़ लिया। पुलिस ने नाबालिग बालिका के पिता की शिकायत पर से अपहरण और बाल विवाह अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर फरार दूल्हे की तलाश शुरू कर दी है।

शादी के बदले शादी करना चाहता था आरोपी

आरोपी ने पुलिस को बताया है कि उसने बालिका के साथ कुछ नहीं किया है। उसकी मंशा इतनी थी कि उसकी शादी जिससे टूटी है, उसकी छोटी बहन से वह शादी कर ले। फिलहाल, पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी: केवल इस ब्लॉग का सदस्य टिप्पणी भेज सकता है.

हाईकोर्ट और सीनियर आई पी एस ने दर्ज कराई एफ आई आर बीस साल पहले , सरकारी धन के गबन और डकैती , भ्रष्टाचार , हरिजन एक्ट के मुलजिम न तो पकड़े और सरकार, कोर्ट ,कानून सबकी ऑंखों में धूल झोंकती रही मुरैना पुलिस

 मुरैना 15 सितंबर ( ग्वालियर टाइम्स ) लगातार 20 साल तक कोर्ट और कानून की ऑंखों में धूल झोंक कर भारी भरकम रिश्वत और भ्रष्टाचार की विष्ठा खा र...