शनिवार, 19 दिसंबर 2020

ग्वालियर जिले के किसानों ने तालियाँ बजाकर किया नए कृषि कानूनों का समर्थन, किसानों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुना प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री का उदबोधन

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने उदबोधन में जब नए कृषि कानूनों की खूबियां बताईं तो ग्वालियर जिले के किसानों ने तालियाँ बजाकर कृषि कानूनों का समर्थन किया। यहाँ बात हो रही है शुक्रवार को जीवाजी विश्वविद्यालय के अटल बिहारी इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर सभागार में आयोजित हुए जिला स्तरीय किसान सम्मेलन की। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने रायसेन में आयोजित हुए प्रदेश स्तरीय किसान सम्मेलन सहित प्रदेश भर के जिला, विकासखण्ड एवं ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित हुए किसान सम्मेलनों में मौजूद कृषकों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया।
   ग्वालियर में प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री भारत सिंह कुशवाह के मुख्य आतिथ्य में आयोजित हुए जिला स्तरीय किसान सम्मेलन में प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री का संबोधन सुनने के लिये विशाल एलईडी स्क्रीन लगाई गई थी। किसान सम्मेलन में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री कुशवाह एवं अन्य अतिथियों ने मंच से प्रतीक स्वरूप लगभग एक दर्जन किसानों को सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत आर्थिक सहायता के चैक व प्रमाण-पत्र सौंपे। कुल मिलाकर जिले के 2 हजार 514 किसानों को किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग सहित किसानों से जुड़े अन्य विभागों की योजनाओं के तहत लगभग 147 लाख रूपए की आर्थिक सहायता वितरित की गई।
   ज्ञात हो रायसेन में आयोजित हुए राज्य स्तरीय किसान सम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने एक क्लिक के जरिए प्रदेश के साढ़े 35 लाख से अधिक किसानों के खातों में 1600 करोड़ रूपए की राहत राशि पहुँचाई। खरीफ 2020 में हुए फसलों के नुकसान से प्रभावित किसानों को यह राहत राशि प्रदेश सरकार ने मुहैया कराई है।
ग्वालियर में आयोजित हुए जिला स्तरीय किसान सम्मेलन में जिला पंचायत प्रशासकीय समिति की अध्यक्ष श्रीमती मनीषा भुजवल सिंह यादव, पूर्व विधायक श्री मुन्नालाल गोयल, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष श्री शांतिशरण गौतम, संभाग आयुक्त श्री आशीष सक्सेना, कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह व जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री शिवम वर्मा तथा जिले के अन्य जनप्रतिनिधिगण व जिले के विभिन्न ग्रामों से आए कृषकगण मौजूद थे।

आर्थिक सहायता पाकर गदगद  हुए किसान

    जिला स्तरीय किसान सम्मेलन में सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत मिली आर्थिक सहायता से किसान गदगद थे। मुरार तहसील के ग्राम टिहोली से आए कृषक आसीन अली का कहना था कि मेरे द्वारा किए जा रहे अच्छे पशुपालन के लिये सरकार की ओर से मुझे 10 हजार रूपए की आर्थिक सहायता मिली है। इस राशि से हम अपने पशुपालन को और आगे बढ़ायेंगे। इसी तरह भितरवार जनपद पंचायत के ग्राम पुराबनवार से आईं श्रीमती गुड्डी बाई किसान सम्मेलन में मिला प्रमाण-पत्र दिखाते हुए बोलीं उद्यानिकी क्षेत्र में अच्छे काम के लिये सरकार ने मुझे 20 हजार रूपए की प्रोत्साहन राशि दी है। गुड्डीबाई का कहना था कि भीमा आजीविका स्व-सहायता समूह से जुड़कर हमारे गाँव की महिलाओं ने आत्मनिर्भरता की ओर कदम बढ़ाए हैं।
    इसी तरह ग्राम सिरोल की निवासी कु. पूजा वर्मा संरक्षित खेती करती हैं, उन्हें पॉली हाउस बनाने के लिये उद्यानिकी विभाग की योजना के तहत 7 लाख 83 हजार रूपए की आर्थिक सहायता किसान सम्मेलन में मुहैया कराई गई। इतनी बढ़ी आर्थिक सहायता पाकर उनकी खुशी देखते ही बनी। ग्राम रौरा निवासी कृषक रामेश्वर सिंह व राजेन्द्र सिंह को किसान क्रेडिट कार्ड व 35 - 35 हजार रूपए की आर्थिक सहायता जिला स्तरीय किसान सम्मेलन में मिली। इन दोनों कृषकों का कहना था कि अब हमें अपनी फसल में खाद देने के लिये किसी से उधार लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

इन विभागों की योजनाओं के तहत 2514 किसानों को मिली आर्थिक मदद

    किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग की योजनाओं के तहत 2 हजार 251 किसानों को 32 लाख 24 हजार रूपए की सहायता दी गई। इसी तरह जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक द्वारा 207 कृषकों को 90 लाख 85 हजार, मत्स्य पालन विभाग द्वारा 54 किसानों को लगभग एक लाख 43 हजार और उद्यानिकी विभाग की योजनाओं के तहत दो किसानों को 22 लाख रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की गई।

विकासखण्ड मुख्यालयों एवं ग्राम पंचायतों में भी हुआ किसान सम्मेलनों का आयोजन

ग्वालियर में आयोजित हुए जिला स्तरीय किसान सम्मेलन के साथ-साथ विकासखण्ड स्तरीय किसान सम्मेलन भी आयोजित हुए, जिसमें बड़ी संख्या में किसान शामिल हुए। विकासखण्ड मुरार के किसान सम्मेलन का आयोजन यहां बाल भवन में किया गया। इसी तरह भितरवार में कृषि उपज मंडी परिसर, घाटीगाँव (बरई) में मंडी परिसर एवं डबरा में नगर पालिका के कम्युनिटी हॉल परिसर में किसान सम्मेलन आयोजित हुआ। इसी तरह जिले की विभिन्न ग्राम पंचायतों में भी किसान सम्मेलन आयोजित हुए।
  



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी: केवल इस ब्लॉग का सदस्य टिप्पणी भेज सकता है.

केंद्रीय मंत्री का चंबल पर भव्य स्वागत , केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने की अगवानी , भव्य रोड रथ पर रोड शो किया

  देश और प्रदेश का विकास ही मुख्य मकसद - केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सिधिंया  मुरैना 22 सितम्बर 2021/केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ...