गुरुवार, 7 जनवरी 2021

रैन बसेरा में सभी व्यवस्थायें हों चाक-चौबंद कलेक्टर ने किया रैन बसेरा का आकस्मिक निरीक्षण

 शहरी क्षेत्र में रात के समय जिन लोगों के लिये आश्रय नहीं है उन्हें आश्रय देने के उद्देश्य से रैन बसेरा बनाए गए हैं। शहरी क्षेत्र में स्थापित सभी सातों रैन बसेरों में सभी व्यवसथायें चाक-चौबंद रहें, यह सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बुधवार को अचानक बस स्टेण्ड स्थित रैन बसेरा का निरीक्षण किया। इस मौके पर अपर आयुक्त नगर निगम श्री मुकुल गुप्ता एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

    कलेक्टर श्री सिंह ने बस स्टेण्ड स्थित दोनों रैन बसेरा का निरीक्षण किया और वहाँ पर रूकने वाले लोगों की संख्या की जानकारी ली। रैन बसेरा में आने वाले लोगों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो, इसका भी विशेष ध्यान निगम के अधिकारी रखें। रैन बसेरा में साफ-सफाई, प्रकाश की व्यवस्था के साथ-साथ शौचालय भी साफ-सुथरे रहें, इस ओर विशेष ध्यान दिया जाए।
    कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि कोविड-19 को देखते हुए सभी रैन बसेरों में आने वाले लोगों के लिये सेनेटाइजर की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जाए। सर्दी के मौसम को देखते हुए रैन बसेरों में कंबल आदि की व्यवस्था भी पर्याप्त संख्या में की जाए। उन्होंने अपर आयुक्त नगर निगम को यह भी निर्देशित किया कि शहर में जिन स्थानों पर रैन बसेरे बने हुए हैं उनकी सूची भी प्रसारित की जाए।
    कलेक्टर श्री सिंह ने यह भी कहा कि सर्दी के मौसम में रात्रि के समय भ्रमण के दौरान निगम के अधिकारी और पुलिस के अधिकारी भी यह देखें कि अगर किसी व्यक्ति को रात में ठहरने के लिये आश्रय नहीं है तो उन्हें रैन बसेरों में पहुँचाने की व्यवस्था की जाए। सभी रैन बसेरों के आस-पास बोर्ड भी लगाएँ, ताकि लोगो को रैन बसेरे की जानकारी उपलब्ध हो सके।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी: केवल इस ब्लॉग का सदस्य टिप्पणी भेज सकता है.

हाईकोर्ट और सीनियर आई पी एस ने दर्ज कराई एफ आई आर बीस साल पहले , सरकारी धन के गबन और डकैती , भ्रष्टाचार , हरिजन एक्ट के मुलजिम न तो पकड़े और सरकार, कोर्ट ,कानून सबकी ऑंखों में धूल झोंकती रही मुरैना पुलिस

 मुरैना 15 सितंबर ( ग्वालियर टाइम्स ) लगातार 20 साल तक कोर्ट और कानून की ऑंखों में धूल झोंक कर भारी भरकम रिश्वत और भ्रष्टाचार की विष्ठा खा र...