शनिवार, 28 नवंबर 2020

सी बी आई ने भिंड से अपहृत की गयी लड़की के मामले में केस रजिस्टर्ड करने के 11 महीने बाद मुल्जिम को गिरफ्तार किया

 सी बी आई ने एक आदिवासी लड़की के अपहरण का मामला पंजीबद्ध करने के 11 महीने बाद अखिरकार मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया ।

पहले इस मामले में भिंड की लोकल पुलिस ने आरोपी के एक नजदीकी मित्र को काफी पहले गिरफ्तार किया था , जिसके बारे में बताया गया कि इसी मित्र की बाइक आरोपी ने लड़की के अपहरण के लिये इतेमाल की ।

पंजाब के राजपुरा गांव से अरूण पाल नामक व्यक्ति को सी बी आई द्वारा गिरफ्तार किया है , यहीं पर उसी के साथ ही  अपहृत आदिवासी युवती पाई गयी, जिसे बरामद किया गया । गिरफ्तार पाल को ट्रांजिट रिमांड के लिये कोर्ट में पेश किया गया ।

तथाकथित बैंक अकाउंट से लिंक्ड मोबाइल नंबर किसी तीसरे अन्य व्यक्ति के नाम से पाया गया है ।

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ ने इस मामले में सी बी आई को केस रजिस्टर करने और इन्वेस्टीगेशन करने के आदेश दिसंबर 2019 में दिये थे , सी बी आई इस साल 1 जनवरी से इस मामले में पूछताछ और तहकीकात कर रही थी ।

यह आदिवासी युवती वैलेंटाइन डे 14 फरवरी 2017 से भिंड से  गुम यानि लापता थी वह भिंड में अपने रिश्तेदार के यहां आई हुई थी ।

लड़की के पिता ने पुलिस को इस संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई थी , भिंड पुलिस द्वारा आरोपी के एक बाइक मित्र को गिरफ्तार कर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया था , लड़की के पिता ने अरूण पाल के नाम से रिपोर्ट दर्ज कराते हुये कहा था कि आरोपी मोटर सायकिल से युवती को ले गया है , बाद में लोकल पुलिस की लंबे समय तक असफलता और लड़की का सुराग देने के बावजूद बरामद कर पाने और मुल्जिम को गिरफ्तार करने में नाकाम रहने पर , एक पिटीशन ग्वालियर हाई कोर्ट के समक्ष लाई गयी , और तब हाईकोर्ट ने यह मामला सी बी आई को सौंप दिया था , जिस पर मुल्जिम अरूण पाल को गिरफ्तार कर लड़की को इसी मंगलवार को बरामद कर लिया गया ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणी: केवल इस ब्लॉग का सदस्य टिप्पणी भेज सकता है.

केंद्रीय मंत्री का चंबल पर भव्य स्वागत , केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने की अगवानी , भव्य रोड रथ पर रोड शो किया

  देश और प्रदेश का विकास ही मुख्य मकसद - केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सिधिंया  मुरैना 22 सितम्बर 2021/केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ...